Connect with us

Blog

अगर कांग्रेस न होती तो क्या होता | Agar Congress na Hoti to kya Hota

अगर-महात्मा-गाँधी-के-इक्छा-के-अनुसार-कांग्रेस-न-होती-क्या-होता-

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्यसभा में 1 घंटा 25 मिनट का भाषण दिया । 85 मिनट के भाषण के वो ढाई मिनट, जिसे सुनकर कांग्रेस के सांसद संसद छोड़कर भाग गए । ये वो ढाई मिनट हैं, जिसे ना तो कांग्रेस भूल सकती है और ना ही गांधी परिवार भूल सकता है । देखिए ढाई मिनट में प्रधानमंत्री ने ऐसा क्या कह दिया कि राहुल गांधी को भी बुरा लग गया ।

अगर कांग्रेस न होती तो क्या होता

अगर महात्मा गाँधी के इक्छा के अनुसार कांग्रेस न होती क्या होता
अगर कांग्रेस न होती तो
लोकतंत्र परिवारवाद से मुक्त होता
अगर कांग्रेस न होती तो
भारत विदेशी चश्मे के बजाय स्वदेशी संकल्पो के रस्ते पर चलता
अगर कांग्रेस न होती तो
इमरजेंसी का कलंक न होता
अगर कांग्रेस न होती तो
दसको तक करप्सन को संस्थागत बनाकर नहीं रखा जाता
अगर कांग्रेस न होती तो
जातिवाद क्षेत्रवाद की खाई गहरी न होती
अगर कांग्रेस न होती तो
सिखो का नरसंहार न होता
अगर कांग्रेस न होती तो
पंजाब सालो साल आतंकी आग में न जलता
अगर कांग्रेस न होती तो
कश्मीर के पंडितो को कश्मीर छोड़ने की नौबत न आती
अगर कांग्रेस न होती तो
बेटियों को तंदूर में जलने की घटना न होती
अगर कांग्रेस न होती तो
बुनियादी सुविधाओं के लिए सालो तक इंतजार न करना पड़ता
अगर कांग्रेस न होती तो

PM Modi Parliament Speech : पीएम मोदी के भाषण पर कांग्रेस ने किया पलटवार संसद में अपने भाषण के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कांग्रेस पर हमला बोला था. इस पर प्रतिक्रिया देते हुए कांग्रेस पार्टी ने कहा कि पीएम मोदी संसद में मुद्दों से हटकर राजनीतिक बयानबाजी कर रहे हैं.

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply