Connect with us

Ambikapur News

Ambikapur News – टाइगर प्वाइंट में पत्थरों पर संदिग्ध हालत में मिली लाश निकली पीएचई के ईई की, जा रहा था घर

Published

on


Tiger point: मैनपाट के टाइगर प्वाइंट झरने में पत्थरों पर मिला था शव, पुलिस व फॉरेंसिक टीम ने मौके पर पहुंचकर की जांच, शुरु में नहीं हो पाई थी शिनाख्त

अंबिकापुर. मैनपाट के टाइगर प्वाइंट में मिली लाश की पहचान कोरिया जिले में पीएचई विभाग में पदस्थ कार्यपालन अभियंता (ईई) (PHE EE) विजय मिंज के रूप में हुई है। सोशल मीडिया (Social media) के माध्यम से जब यह खबर परिजनों तक पहुंची तो उन्होंने शव की शिनाख्त की।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार ईई शुक्रवार को किसी काम से मैनपाट होते अपने घर जशपुर जिला जा रहा था। इसी बीच उसकी शाम को उसकी लाश मिली। उसने झरने में कूदकर आत्महत्या (Suicide) की है या किसी ने हत्या (Murder) कर फेंका है, इसका पता फिलहाल नहीं चल सका है।

सूत्रों के अनुसार ईई के ड्राइवर का कहना है कि उन्होंने उसे मैनपाट (Mainpat) में ही छोडक़र चले जाने कहा था। फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है।

ये भी पढ़ें: मैनपाट के टाइगर प्वाइंट में संदिग्ध अवस्था में मिली युवक की लाश, पुलिस और फॉरेंसिक टीम मौके पर

गौरतलब है कि मैनपाट के टाइगर प्वाइंट (Tiger point) में शुक्रवार की देर शाम वहां घूमने गए ग्रामीणों ने एक अज्ञात व्यक्ति की लाश पड़ी देखी थी। उसका चेहरा विभत्स था। इसकी सूचना ग्रामीणों ने कमलेश्वर थाने में दी लेकिन अंधेरा होने के कारण पुलिस रात में नहीं जा पाई।

शनिवार की सुबह कमलेश्वरपुर टीआई विजय प्रताप सिंह, एसआई धीरेंद्र दुबे, एएसआई सहदेव बर्मन व टीम के अन्य सदस्यों के साथ मौके पर पहुंचे। वहीं फॉरेंसिक एक्सपर्ट कुलदीप कुजूर को भी जांच के लिए बुलाया गया।

इसके बाद टीम ने मौके पर जांच की। मृतक के पास से एक पर्स, 2 मोबाइल, चेन जिसमें क्रॉस का चिह्न बना था, बरामद हुआ था। युवक के पास आधार कार्ड या अन्य पहचान पत्र नहीं होने तथा मोबाइल भीग जाने के कारण उसकी शिनाख्त नहीं हो पाई थी।

ये भी पढ़ें: मैनपाट के टाइगर प्वाइंट झरने में 60 फिट की ऊंचाई से सिर के बल पत्थरों पर गिरा पर्यटक, दर्दनाक मौत

परिजन ने की पहचान
पुलिस ने मृतक की शिनाख्ती के लिए सोशल मीडिया पर उसकी तस्वीर डाली थी। वहीं मृतक के परिजन भी घर नहीं पहुंचने के बाद से उसकी तलाश में जुटे थे। इसी बीच खबर सुनकर वे मैनपाट पहुंचे और लाश की पहचान विजय मिंज के रूप में की। मृतक विजय मिंज पीएचई बैकुंठपुर में ईई के रूप में पदस्थ थे।













Source link

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 929 other subscribers

Recent Posts

Facebook

Categories

Our Other Site

Trending