Connect with us

Ambikapur News

Ambikapur News – महिला ने पंचायत में कहा था कि 2 लोगों के नाम ही पूरी जमीन कर दूंगी तो तीसरे ने मुर्गा काटने वाले हथियार से कर दी हत्या

Published

on


Blind murder: घर में अकेली रहने वाली बुजुर्ग महिला के पास थी 3 एकड़ जमीन, परिवार (Family) के ही 3 में से 2 लोगों के नाम करना चाहती थी जमीन, तीसरे के बारे में कहा था कि वह मेरी सेवा नहीं करता

बतौली. 8 दिन पूर्व धान की खेत में बुजुर्ग महिला की क्षत-विक्षत लाश मिली थी। महिला के सिर पर धारदार हथियार से कई बार प्रहार करने के निशान थे। इस अंधे कत्ल (Blind murder) की गुत्थी पुलिस ने 8 दिन बाद सुलझा ली। पुलिस ने मामले में महिला के परिवार के ही एक सदस्य को गिरफ्तार किया है।

आरोपी ने महिला की जमीन में से खुद को हिस्सा ना मिलता देख वारदात को अंजाम दिया था। दरअसल महिला ने कुछ दिन पूर्व पंचायत की बैठक बुलाकर कहा था कि सिर्फ 2 लोगों के नाम ही अपनी पूरी जमीन लिख दूंगी, इससे आरोपी रंजिश रखने लगा था। इसी बीच 1 अक्टूबर को मौका पाकर उसने बुजुर्ग महिला की मुर्गा काटने वाले हथियार से हत्या (Murder) कर शव खेत में फेंक दिया था।

बतौली थाना क्षेत्र के ग्राम खड़धोवा निवासी गुलबी बाई 75 वर्ष गांव में अकेली रहती थी। 2 अक्टूबर को उसकी लाश गांव में ही धान के खेत में क्षत-विक्षत अवस्था में मिली थी। महिला के सिर पर धारदार हथियार (Sharp weapon) के निशान थे। पुलिस अज्ञात के खिलाफ हत्या (Murder) का अपराध दर्ज कर मामले की जांच में जुटी थी।

ये भी पढ़े: घर में अकेली रह रही वृद्धा की नृशंस हत्या कर धान के खेत में फेंक दी लाश, खून से थी लथपथ

जांच के दौरान पुलिस ने गांव के ही महेश कुमार घासी को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो उसने महिला की हत्या की बात स्वीकार कर ली। इसके बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर धारा 302 के तहत न्यायालय में पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया।

कार्रवाई में बतौली थाना प्रभारी एसके केरकेट्टा, एसआई क्लेमेंट तिर्की, एएसआई शिवचरण साहू, आरक्षक संजय केरकेट्टा, अर्जुन राम, सैनाथ लकड़ा व सहायक आरक्षक जोगी बड़ा शामिल रहे।

इस कारण महिला से रखता था रंजिश
बतौली थाना प्रभारी ने अंधे कत्ल का खुलासा करते हुए बताया कि मृतिका गुलबी बाई के पास 3 एकड़ जमीन थी। उक्त जमीन पर महिला के रिश्ते के ही सुंदर घासी, सुभग घासी व आरोपी महेश कुमार घासी खेती करते थे।

ये भी पढ़े: पत्नी ने गला घोंटकर पति को उतार दिया मौत के घाट, हत्या का अपराध छिपाने लाश को बेड पर लिटाया और…

इसी बीच महिला ने गांव में सरपंच-पंच की बैठक बुलाई और कहा कि सुंदर व सुभग के नाम वह अपनी पूरी जमीन लिख देगी, क्योंकि ये दोनों ही उसकी देखभाल करते हैं, जबकि महेश उसकी देखभाल नहीं करता। वह अक्सर गांव में इस बात की चर्चा करती थी।

नवाखानी त्यौहार की रात वारदात को दिया अंजाम
वृद्धा द्वारा पूरी जमीन का बंटवारा सुंदर व सुभग के बीच करने की बात को लेकर आरोपी महेश महिला से रंजिश रखने लगा था। इसी बीच 1 अक्टूबर को नवाखानी त्यौहार की रात महिला गांव में घूम-घूमकर खाना-पीना कर रही थी।

इधर अपने मुर्गा दुकान से आरोपी महेश घर लौट रहा था तो रास्ते में गुलबी बाई उसे मिल गई। जमीन में बंटवारा न मिलने की रंजिश को लेकर उसने गुलबी बाई की मुर्गा काटने वाले हथियार गड़ासा से सिर पर 3-4 बार प्रहार कर हत्या (Murder) कर दी।














Source link

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 27 other subscribers

Recent Posts

Facebook

Categories

Our Other Site

Trending