Connect with us

India News

Breaking News- न्यूज चैनलों की 12 सप्ताह तक TRP जारी नहीं करेगा BARC, इस संस्था ने किया स्वागत

Published

on


नई दिल्ली: निजी टीवी चैनलों (News Channels) की रेटिंग मापने वाले  ‘ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल’ (BARC) ने 12 सप्ताह तक TRP जारी न करने का फैसला किया है. निजी टेलिविजन न्यूज चैनल्स के समूह 
‘न्यूज ब्रॉडकास्टर्स एसोसिएशन’ (NBA) ने काउंसिल के इस फैसले का स्वागत किया है.

TRP में मानव हस्तक्षेप को पूरी तरह खत्म कर देना चाहिए
NBA ने बयान जारी करके कहा कि 12 हफ्ते तक व्युअरशिप डाटा निलंबित रखे जाने के समय का उपयोग BARC में महत्वपूर्ण सुधारों को लागू करने में किया जाएगा. NBA ने कहा कि व्युअरशिप डाटा की सुरक्षा और अखंडता के लिए डाटा कलेक्शन और प्रोसेसिंग में मानव हस्तक्षेप को पूरी तरह समाप्त कर दिया जाना चाहिए. इस संबंध में आने वाली शिकायतों को पारदर्शी तरीके से निपटाया जाना चाहिए. 

12 हफ्तों का इस्तेमाल सिस्टम को सुधारने में हो: NBA 
 NBA ने कहा कि वह इस मुद्दे पर सार्थक चर्चा और तेजी से निर्णय लेने के लिए तैयार है. यह निर्णय दर्शक, न्यूज इंडस्ट्री और लोगों के हित में होना चाहिए. NBA ने कहा कि बार्क को विश्वसनीयत बनाए रखने के लिए इन 12 हफ्तों का इस्तेमाल अपने सिस्टम को पूरी तरह से दुरुस्त करने में करना चाहिए.

अभद्र, फेक न्यूज और कड़वाहट से भरा माहौल अब नहीं चलेगा: रजत शर्मा
 NBA के प्रेजिडेंट और ‘इंडिया टीवी’ के चेयरमैन रजत शर्मा का कहना है कि  ‘हाल ही में हुए टीआरपी से छेड़छाड़ के खुलासे के बाद मीजरमेंट एजेंसी और ब्रॉडकास्ट न्यूज मीडिया की किरकिरी हुई है. अभद्र, फेक न्यूज और ड़वाहट से भरा माहौल अब ज्यादा समय तक चलने वाला नहीं है. उन्होंने कहा कि न्यूज चैनल्स की रेटिंग को 12 हफ्तों तक जारी न करने का फैसला कंटेंट को सुधारने में मददगार साबित होगा.

ये भी पढ़ें- क्या पूरी हो चुकी है सुशांत सिंह राजपूत मामले की जांच? CBI ने दिया ये बड़ा बयान

रेटिंग में अचानक तर्कहीन उतार-चढ़ाव आते हैं
रजत शर्मा ने कहा कि NBA कई वर्षों से  टीवी व्युअरशिप डाटा की सत्यता को लेकर अपनी चिंताओं को उजागर करता रहा है. इस रेटिंग में अचानक काफी तर्कहीन उतार-चढ़ाव होते हैं. पिछले दिनों हुए घटनाक्रमों से पता चला है कि
 सिर्फ न्यूज चैनल्स की लोकप्रियता को मापने से अधिक और भी बहुत कुछ दांव पर लगा हुआ है. वास्तव में भारतीय  लोकतंत्र के लिए एक स्वस्थ और जोशपूर्ण टीवी न्यूज इंडस्ट्री काफी महत्वपूर्ण है.

LIVE TV



Source link

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 27 other subscribers

Recent Posts

Facebook

Categories

Our Other Site

Trending