Connect with us

India News

Breaking News- हाथरस: जांच के लिए पहुंची SIT की टीम, सीमा कुशवाहा लड़ेंगी केस

Published

on


हाथरस: देश को दहलाने वाले हाथरस गैंगरेप कांड (Hathras Gangrape Case) की जांच के लिए यूपी SIT की टीम हाथरस पहुंच गई है. तीन सदस्यीय इस टीम में दलित महिला अधिकारी भी शामिल हैं. वहीं, मानवाधिकार आयोग ने इस मामले में उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव और डीजीपी को नोटिस जारी किया है.

सात दिनों में रिपोर्ट देगी SIT
एसआईटी को 7 दिनों के अंदर अपनी रिपोर्ट पेश करनी है. स्थिति की गंभीरता को देखते हुए यूपी सरकार ने जांच के लिए गृह सचिव की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन किया था. जल्द न्याय सुनिश्चित करने के लिए मामले को फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलाया जाएगा. वहीं, इस मामले से जुड़ी एक याचिका पर आज इलाहाबाद हाईकोर्ट में सुनवाई हो सकती है.

PM मोदी ने की योगी से बात
इस बीच, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने भी यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) से बात करके दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई करने के लिए कहा. इससे पहले आदित्यनाथ ने पीड़ित के पिता से वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए बात की. मुख्यमंत्री योगी ने पीड़ित के परिवार को 25 लाख मुआवजे की घोषणा की है.  

निर्भया की वकील दिलाएंगी इंसाफ
वहीं, खबर है कि हाथरस पीड़िता का केस ‘निर्भया’ को इंसाफ दिलाने वालीं वकील सीमा कुशवाहा मुकदमा लड़ेंगी. सूत्रों के मुताबिक सीमा आज हाथरस जाकर पीड़ित परिवार से भी मुलाकात कर सकती हैं. दिल्ली के निर्भया कांड में सीमा कुशवाह के प्रयासों के चलते ही दोषियों को सजा मिल सकी थी. लिहाजा यदि वो इस मामले को हाथ में लेती हैं, तो हाथरस पीड़िता को न्याय मिलने की उम्मीद बढ़ जायेगी. 

विपक्षी नेताओं ने साधा योगी पर निशाना
इस पूरे मामले को लेकर अब राजनीति भी शुरू हो गई है. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने योगी सरकार पर उठाए सवाल हैं. उन्होंने कहा है कि यूपी में कानून व्यवस्था बुरी तरह चरमरा गई है. कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने आरोप लगाया है कि पीड़िता का परिवार अंतिम संस्कार तक नहीं कर पाया. ये अमानवीयता का सबसे बड़ा उदाहरण है. समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने Zee News से फोन पर बातचीत में हाथरस की घटना पर दु:ख जताते हुए कहा कि हाथरस में जंगलराज है. वहीं, AIMIM नेता असद्दुदीन औवेसी ने भी योगी सरकार पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि सीएम योगी को माफी मांगनी चाहिए.

14 सितंबर को उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले के चंदपा थाना क्षेत्र स्थित एक गांव में 19 साल की एक दलित लड़की के साथ सामूहिक बलात्कार किया गया था.  पुलिस ने इस मामले में 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया. परिवार वालों का आरोप है कि आरोपियों ने पीड़िता की रीढ़ की हड्डी तोड़ दी. उसकी जीभ भी काट दी. हालांकि, हाथरस पुलिस ने इन बातों का खंडन किया है. पीड़िता को इलाज के लिए दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में भर्ती किया गया था, जहां उसने मंगलवार को दम तोड़ दिया था. 

LIVE टीवी:

 

 



Source link

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 929 other subscribers

Recent Posts

Facebook

Categories

Our Other Site

Trending