Connect with us

India News

Breaking News- Grand Challenges Annual Meeting में होगा PM मोदी का भाषण, जानें खास बातें

Published

on


नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) सोमवार (19 अक्टूबर) को शाम 7:30 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए ग्रांड चैलेंजेज वार्षिक बैठक 2020 (Grand Challenges Annual Meeting 2020) के उद्घाटन समारोह में मुख्य भाषण देंगे. पीएमओ के हवाले से कहा गया है कि पिछले 15 वर्षों से ग्रांड चैलेंजज वार्षिक बैठक स्वास्थ्य और विकास में सबसे बड़ी चुनौतियों का सामना करने के लिए अंतरराष्ट्रीय नवाचार सहयोग (International Innovation Collaborations) को बढ़ावा देने का कार्य कर रहे हैं. 

यह बैठक 19 से 21 अक्टूबर के बीच वर्चुअल होगी. बैठक में नीति निर्माताओं और वैज्ञानिक नेताओं को एक साथ देखेंगे. वैश्विक स्वास्थ्य समस्याओं को हल करने में गहन वैज्ञानिक सहयोग के लिए यह बैठक होगी. बैठक में COVID -19 पर ‘भारत फॉर द वर्ल्ड’ फ्रेमिंग पर बहुत जोर दिया जाएगा. इसके साथ ही कोविड-19 और ‘भारत फॉर द वर्ल्ड’ फ्रेमिंग पर बहुत जोर दिया जाएगा.

ये भी पढ़ें- Good News: भारत में जल्द शुरू होगा कोरोना वैक्सीन के दूसरे फेज का ट्रायल

मीटिंग में शामिल होंगे 40देश के 1600 लोग
इस मीटिंग में 40 देशों के 1600 लोग हिस्सा लेंगे. ग्रांड चैलेंजेज में शामिल हो रहे लोग दुनियाभर के प्रसिद्ध वैज्ञानिक, नेता और शोध से जुड़े लोग होंगे, जो दुनिया में सतत विकास लक्ष्यों में प्रगति को गति देने के लिए महत्वपूर्ण प्राथमिकताओं पर चर्चा करेंगे. इसके अलावा यहां पर कोविड महामारी के संकट से आने वाली चुनौतियों से निपटने पर चर्चा होगी. पीएमओ के अनुसार ग्रांड चैलेंजेज वार्षिक बैठक को बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन, जैव प्रौद्योगिकी विभाग, विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय भारत सरकार, भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद और  नीतिय आयोग के साथ-साथ ग्रैंड चैलेंज कनाडा द्वारा होस्ट किया जा रहा है. 

2012 में हुई थी ग्रांड चैलेंज की स्थापना
मीटिंग का केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण, विज्ञान और प्रौद्योगिकी और पृथ्वी विज्ञान मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन उद्घाटन करेंगे. इसके बाद बिल गेट्स और बिल एंड मेलिंडा गेट्स  प्लेंट्री फार्मिंग वार्तालाप (plenary framing conversation) करेंगे. जानकारी के लिए बता दें कि ग्रांड चैलेंज इंडिया की स्थापना 2012 में जैव प्रौद्योगिकी विभाग, भारत सरकार और बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन की पार्टनरशिप में हुई थी. 



Source link

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 935 other subscribers

Recent Posts

Facebook

Categories

Our Other Site

Trending