Connect with us

Raipur News

News – ढाबा संचालक के बेटे का अपहरण, पत्नी को फोन कर मांगी 50 लाख की फिरौती

Published

on


– आईपीएल में सट्टेबाजी (IPL betting) के रुपए के लेन-देन की जताई जा रही आशंका, राजनांदगांव और भिलाई की पुलिस टीम बनाकर अलग- अलग राज्यों के लिए हुए रवाना।

रायपुर. आईपीएल में सट्टेबाजी (IPL betting) की लेन- देन को लेकर टेड़ेसरा- देवादा के बीच स्थित उड़ता पंजाब ढाबा के संचालक के 16 वर्षीय बेटे के अपहरण करने का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि परिवार वालों को करीब 50 लाख रुपए की फिरौती (ransom) की मांग को लेकर फोन भी आया है। इस पूरे घटनाक्रम में एक व्यक्ति के सरेंडर किए जाने की भी सूचना आ रही है। हालांकि सोमनी टीआई शिवेंद्र राजपूत व सीएसपी मणिशंकर चंद्रा ने इसे संवेदनशील मामला बताते हुए फिरौती व सरेंडर की बात को खारिज कर दिया है। पुलिस मामले की छानबीन में जुटी हुई है। पुलिस जल्द अपहृर्ताओं तक पहुंचने का दावा कर रही है।

राजनांदगांव के सोमनी थाना क्षेत्र के टेड़ेसरा स्थित उड़ता बंजाब (Udhta Pnjab) ढाबा संचालक बलजीत सिंह के 16 वर्षीय पुत्र गुरप्रीत सिंह का शनिवार रात को करीब 9.15 बजे अपहरण हो गया। ढाबा संचालक (Udhta Pnjab Dhaba) भिलाई का रहने वाला है। बताया जा रहा है कि उसका बेटा अपने कुछ दोस्तों के साथ खाना खाने के लिए ढाबे पर पहुंचा था। वे ढाबा से निकल रहे थे, तभी तीन लोग चार पहिया वाहन से पहुंचे और गुरप्रीत को उठा ले गए।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार यह पूरा मामला आईपीएल मैच (IPL betting) में लगे सट्टे की राशि के लेन-देन को लेकर है। पुलिस ने भी यही शंका जाहिर की है। पुलिस अब तक किसी भी ठोस नतीजे पर नहीं पहुंच पाई है। पुलिस को महासमुंद और भिलाई के सट्टेबाजों (IPL betting) पर शक है। इस आधार पर राजनांदगांव पुलिस ने तीन टीम गठित कर पतासाजी में जुटी हुई है।

भिलाई पुलिस की भी ली जा रही मदद
जिस युवक का अपहरण हुआ है, वह भिलाई का रहने वाला है। ऐसे में इस मामले में भिलाई पुलिस की भी मदद ली जा रही है। अब तक हुए जांच में खुलासा हुआ है कि पैसे के लेन-देन को लेकर ही गुरप्रीत की किडनैपिंग हुई है।

मामले में छानबीन चल रही है। किडनैपरों (Kidnapper) तक पुलिस जल्द ही पहुंच जाएगी। मामले में किसी ने सरेंडर नहीं किया है। फिरौती की मांग जैसी किसी बात की जानकारी नहीं है। परिजनों को पूछताछ के लिए बुलाया गया है।
डी. श्रवण, एसपी, राजनांदगांव






Show More










Source link

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 935 other subscribers

Recent Posts

Facebook

Categories

Our Other Site

Trending