प्राणायाम हेतु कुछ निमय (Some Rules for Pranayam)

प्राणायाम शुद्ध सात्त्विक निर्मल स्थान पर करना चाहिए। यदि संभव हो तो जल के समीप बैठकर अभ्यास करें। शहरों में …

Read moreप्राणायाम हेतु कुछ निमय (Some Rules for Pranayam)

प्राणायाम का महत्व एवं लाभ (Importance and benefits of Pranayama)

प्राण का आयाम (नियंत्रण) ही प्राणायाम है। हमारे शरीर में जितनी भी चेष्टाएँ होती हैं, सभी का प्राण से प्रत्यक्ष …

Read moreप्राणायाम का महत्व एवं लाभ (Importance and benefits of Pranayama)

Pran Sadhna (प्राण-साधना)

प्राण-साधना प्राण का मुख्य द्वार नासिका है। नासिका-छिद्रों के द्वारा आता-जाता श्वास-प्रश्वास जीवन तथा प्राणायाम का आधार है। श्वास-प्रश्वास-रूपी रज्जु …

Read morePran Sadhna (प्राण-साधना)